AdSense

Showing posts from April, 2020Show all

एक फौजी की आखरी खत कारगिल से पढ़कर हर सच्चे हिंदुस्तानी के आंखों में आ जाएंगे आंसू

आखरी खत कारगिल से, मां बस अभी अभी वक्त मिला है ये खत लिखने का, वैसे तो अभी सबके सब खत लिखने में व्यस्त हैं अपने घर वालों को, कमांडर साहब का जो हुकुम है, जो शायद उनको भी पता है जहां हम अब जाने वाले हैं, वहां से हम में से कुछ वापिस नहीं आएंगे। शायद ये मेरा भी आखरी खत हो, बोलते हुए कितना अजीब-सा लगता है,आखरी …

Read more