सहरसा से सुपौल के बीच बड़ी लाइन का सपना जल्द साकार होने जा रहा है । रेलवे सहरसा से सुपौल के बीच ट्रेन दौड़ाने की अंतिम तैयारियों में जुट गया है । 26 अक्टूबर को होने वाले प्रस्तावित सीआरएस निरीक्षण को देखते हुए बीते शुक्रवार को रेल निर्माण और इंजीनियरिंग विभाग के अधिकारियों ने सुपौल तक मोटर ट्राली से रेल लाइन का निरक्षण किया था । आप को बता दे कि छठ के बाद सुपौल तक बड़ी रेल लाइन की ट्रेनें दौड़ने लगेंगी । रेलवे के विश्वस्त सूत्रों के अनुसार इस दिशा में तेजी से कार्य किया जा रहा है । 26 को सीआरएस कार्यक्रम निर्धारित है और 15 नवंबर तक हर हाल में सहरसा से सुपौल के बीच ट्रेनों का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा । आमन परिवर्तन के बाद 4 से 5 ट्रेनें सुपौल से चलेंगी जिनमे पैसेंजर और एक्सप्रस ट्रेनें भी होंगी ।
15 नवंबर तक सहरसा सुपौल के बीच रेल

15 नवंबर तक सहरसा सुपौल के बीच ट्रेनें दौड़ने लगेंगी । गढ़बारुआरी से सुपौल तक ट्रैक पैकिंग का कार्य अंतिम चरण में है जिसे 26 अक्टूबर से पहले पूरा कर लिया जाएगा । बचे हुए अन्य कार्य जिसमे प्लेटफार्म और रेल फाटकों के बीच फिनिशिंग कार्य को पूरा कर लिया जाएगा । आप को बता दे कि सुपौल तक ट्रेनों की सेवा बहाल कर दी जाएगी । सुपौल स्टेशन पर अभी फुट ओवरब्रिज समेत कई कार्य अधूरे है जिसे ट्रेनें शुर होने के बाद भी पूरा कर लिया जाएगा । दिसंबर तक सरायगढ़ तक ट्रेन चलाने की तैयारी है ।